अब घर बैठे करें लॉगआउट कहीं और खुले अपने फेसबुक एकाउंट को

a2zfact | allfacts - ab ghar baithe karein logout kahin aur khule apne facebook account ko

आजकल फेसबुक सोशल मीडिया में जुड़ने का सबसे पावरफुल तरीका है । दुनिया में ना जाने कितने ही लोग अपने फेसबुक एकाउंट से सोशल मीडिया के जरिये दुनिया से जुड़े रहते हैं । ज्यादातर लोग अक्सर अपना फेसबुक एकाउंट अपने स्मार्टफोन से इस्तेमाल करते हैं लेकिन बहुत से लोग ऐसे भी हैं जो अपने कंप्यूटर एवं टैब इत्यादि का इस्तेमाल कर फेसबुक चलाते हैं । कुछ लोग अपने ऑफिस के कंप्यूटर में बैठकर भी अपना फेसबुक एकाउंट चलाते हैं । इसके अलावा साइबर कैफ़े में बैठकर भी बहुत से व्यक्ति अपने फेसबुक एकाउंट का यूज़ करते हैं लेकिन कई बार जल्दबाजी में अथवा याद ना आने के कारण बहुत से लोग अपना फेसबुक एकाउंट लॉगआउट करना ही भूल जाते हैं ।

आज हम आप सबको इसी समस्या का हल बताएँगे । इसके लिए आपको बस अपने फेसबुक एकाउंट में जाकर रिमोट लॉगआउट (Remote Logout) करना पड़ेगा । इस प्रक्रिया को पूर्ण करने के लिए इन स्टेप्स को फॉलो करें - 

- सबसे शुरुआत में अपने फेसबुक अकाउंट में लॉगइन करें ।
- उसके बाद अपने एकाउंट के राइट कार्नर में बने मेन मेनू (Main Menu) में क्लिक करिये और वहाँ से सीधा सिक्योरिटी (Security) ऑप्शन में जाकर लेफ्ट क्लिक करें ।
- क्लिक करने पर एक नया टैब खुलेगा और अब उसमें Where You're Logged In नाम का ऑप्शन ढूँढे और उसी के सामने बने हुए एडिट (Edit) ऑप्शन पर क्लिक करें ।
- क्लिक करने पर आपको Current Session का ऑप्शन दिखाई देगा और साथ ही में आपको उसके नीचे यह भी दिख जाएगा कि आप किस स्थान से, किस फ़ोन अथवा कंप्यूटर द्वारा और किस ब्राउज़र में लॉगइन हैं ।
- अब यदि आप कहीं और किसी डिवाइस में लॉगइन हैं तो वह आपको पता चल जायेगा और साथ ही में आपको यह भी पता चल जाएगा कि आप किस तारीख में और कितने बजे लॉगइन थे ।
- अब इस अन्य डिवाइस में लॉगइन अपने फेसबुक अकाउंट से लॉगआउट करने के लिए वहाँ पर मौजूद इन्ड एक्टिविटी (End Activity) के ऑप्शन पर क्लिक करिये इससे आप उस डिवाइस से लॉगआउट हो जायेंगे ।
- यदि आप एक से अधिक डिवाइस में लॉगइन हैं और एक बार में ही हर डिवाइस से लॉगआउट होना चाहते हैं तो वहाँ पर मौजूद इन्ड आल एक्टिविटी (End All Activity) के ऑप्शन पर क्लिक करें इससे उन सभी डिवाइसेस जिनमें आपका फेसबुक एकाउंट लॉगइन है आप लॉगआउट हो जायेंगे ।

बिना पासवर्ड के भी खुल सकता है आपका फेसबुक एकाउंट

a2zfact|allfacts bina password ke bhi khul sakta hai aapka facebook account

जी हाँ, आपने सही पढ़ा आपके फेसबुक अकाउंट को बिना किसी पासवर्ड से भी खोला जा सकता है । यह पढ़कर आप गहरी सोच में पड़ गए होंगे और सोच रहे होंगे कि यह कैसे संभव है ? परन्तु यह सत्य है कि बिना आपके पासवर्ड के भी आपका फेसबुक एकाउंट खोला जा सकता है लेकिन यह अधिकार सिर्फ फेसबुक के कुछ विशेष कर्मचारियों को ही प्राप्त है । उनके अलावा कोई भी व्यक्ति आपके फेसबुक एकाउंट को बिना आपके पासवर्ड की सहायता से नहीं खोल सकता ।

आपके मन में अवश्य ही यह चिंता उठ रही होगी कि वे कर्मचारी आपके फेसबुक एकाउंट का कोई गलत फायदा उठा सकते हैं लेकिन आपको ऐसी कोई चिंता करने की आवश्यकता नहीं है । फेसबुक ने स्वयं यह घोषणा की है कि अपने सभी यूजर्स की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए ही उसने अपने कुछ विशेष कर्मचारियों को यह सुविधा उपलब्ध कराई है ।

फेसबुक ने स्वयं इस बात की भी गारंटी ली है कि इस कार्य से फेसबुक यूजर्स को प्राइवेसी और सिक्योरिटी संबंधित कोई भी हानि नहीं पहुँचेगी । साथ ही में उसने यह भी कहा है कि यदि किसी कर्मचारी को इस सुविधा का गलत फायदा उठाते हुए पाया गया तो उसे उसी समय फेसबुक यूजर्स के साथ किये हुए इस धोखे के लिए तुरंत नौकरी से निकाल दिया जायेगा । फेसबुक अधिकारियों का कहना है कि जिन कर्मचारियों को यह विशेष सुविधा दी गयी है उन्हें यूजर्स के एकाउंट से जुड़े विशेष कार्यो को पूर्ण करना रहता है ।

इस तरह हटाएं हर खतरनाक वायरस को अपने स्मार्टफोन से


जब कभी आपके मोबाइल में कोई वायरस आ जाता है या आपका मोबाइल वायरस के कारण बहुत ज्यादा हैंग मारने लगता है तब आपके दिमाग में अपने मोबाइल को ठीक करने के लिए फैक्ट्री रिसेट (Factory Reset) का ऑप्शन ही आता है लेकिन इस ऑप्शन को इस्तेमाल करने से आपके मोबाइल में मौजूद आपका सारा डाटा जैसे फोटो, मैसेज इत्यादि नष्ट हो जाते हैं । अतः ऐसी परिस्थिति से बचने के लिए ही आज हम आपको एक ऐसा आसान सा तरीका बताएँगे जिससे आपके मोबाइल में मौजूद सारा वायरस भी ख़त्म हो जायेगा और आपका डाटा भी नष्ट नहीं होगा ।

सबसे पहले अपने मोबाइल को सेफ मोड (Safe Mode) में ऑन करें । मोबाइल को सेफ मोड (Safe Mode) में ऑन करने के लिए सबसे पहले अपने फ़ोन को स्विच ऑफ करें । उसके बाद दुबारा मोबाइल के पॉवर बटन को दबा कर रखें और जैसे ही मोबाइल का नाम स्क्रीन पर दिखाई देने लगे तुरंत ही पॉवर बटन से हाथ हटाकर वॉल्यूम डाउन की बटन को दबाएं और तब तक दबाकर रखें जब तक मोबाइल दुबारा स्टार्ट ना हो जाये । जैसे ही मोबाइल दुबारा स्टार्ट होगा आपको मोबाइल के बायीं ओर सेफ मोड (Safe Mode) का ऑप्शन दिखाई देगा ।

जब फ़ोन सेफ मोड (Safe Mode) में ऑन हो जाये तो Settings ऑप्शन में जाएं और वहाँ से Apps ऑप्शन में जाएं और फिर Downloaded ऑप्शन में जाएँ ।

जब आप Downloaded ऑप्शन में पहुंच जाएँ तो चेक करें कि वहाँ कोई ऐसा App तो नहीं है जिसे आपने डाउनलोड ना किया हो । यदि वहाँ ऐसा कोई App मौजूद है तो वह वायरस हो सकता है ।

अब उस App पर क्लिक करके अंदर जाएँ और वहाँ मौजूद Uninstall ऑप्शन पर क्लिक करके उस App को Uninstall कर दें । इसके बाद फ़ोन को रिस्टार्ट करें और अब आपको सेफ मोड (Safe Mode) में जाने की कोई जरुरत नहीं है ।

यह प्रक्रिया करने के बाद भी यदि वह App वहाँ से Uninstall ना हुआ हो तो फिर से Settings ऑप्शन में जाएँ और वहाँ से Security ऑप्शन में एवं उसके बाद Device Administrators में जाकर उस App को डीएक्टिवेट कर दें ।

इसके बाद दुबारा Settings ऑप्शन में जाएँ । वहाँ Apps ऑप्शन के अंदर जाएँ और Downloaded ऑप्शन पर क्लिक करें एवं इसके बाद उस App को Uninstall कर दें । यह करने पर आपके मोबाइल से वह वायरस नष्ट हो जायेगा ।

तो यह निवास स्थल है बजरंगबली का


संसार में बहुत ही कम लोग ऐसे हैं जिन्हें अमरता का वरदान प्राप्त है और ऐसा कहा जाता है कि रामभक्त हनुमान उन्हीं अमर शक्तियों में से एक हैं । सतयुग में बजरंगबली की भगवान राम के प्रति निष्ठा और श्रद्धा भाव को देखते हुए माता सीता ने उन्हें अमरता का वरदान दिया था और तभी से ऐसा कहा जाता है की पवनपुत्र हनुमान आज भी कहीं पर अवश्य जीवित हैं परन्तु उनके निवास स्थल के बारे में सिर्फ अंदाजा ही लगाया जा सकता है ।

हमारे कई धर्मग्रंथो और पुराणों में ऐसा लिखा है कि हनुमान जी का निवास स्थल गन्धमादन पर्वत के पास कहीं पर स्थित है । यह भी कहा जाता है कि द्वापरयुग में जब पाण्डवों को 13 वर्ष का वनवास भुगतना पड़ा था तब अपने अज्ञातवास के आखिरी वर्ष में पाण्डव गन्धमादन पर्वत की और भी आये थे । जब पाण्डवों को सहस्रदल कमल की आवश्यकता पड़ी तब उन्होंने भीम को उस कमल को लाने के लिए भेजा । भीम हिमवंत पार करते हुए जब गन्धमादन पर्वत पहुँचे तब हनुमान जी ने अपनी पूँछ को उनके रास्ते के सामने रखते हुए उनका शक्ति परीक्षण किया और उनके अति-आत्मविश्वास को तोडा ।

ऐसा कहा जाता है कि गन्धमादन पर्वत के शिखर तक सिर्फ पैदल ही पंहुचा जा सकता है क्योंकि इस पर्वत पर कई सिद्धहस्त साधु, गन्धर्व, किन्नर इत्यादि भी निवास करते हैं । इस पर्वत का रास्ता कैलाश से उत्तर दिशा की और जाने पर प्राप्त होता है । इसी पवित्र पर्वत पर महर्षि कश्यप ने भी साधना की थी ।

पूर्व काल में यह क्षेत्र धन के देवता कुबेर के क्षेत्र में आता था । यह पर्वत सुमेरु पर्वत के चारो और फैले हुए गजदंत पर्वतो में से एक था । इसी तरह का एक पर्वत दक्षिण दिशा में रामेश्वर धाम के पास भी है जहाँ से बजरंगबली ने लंका के लिए छलांग लगायी थी । वर्तमान में यह पर्वत तिब्बती इलाके में आता है ।

इसी कारणवश उस पर्वत पर हनुमान जी का एक विशेष मदिर बना हुआ है । जहाँ पर उनकी प्रतिमा के साथ उनके आराध्य प्रभु श्रीराम की प्रतिमा भी स्थापित है । इसके अलावा भी कई देवी-देवताओं की मूर्तियां वहाँ पर विराजित हैं । यह भी माना जाता है कि इसी पर्वत के ऊपर विराजित होकर प्रभु श्रीराम एवं हनुमान जी अपनी वानर सैनिकों के साथ युद्ध की योजना भी बनाते थे और इसी कारणवश भगवान श्रीराम के चरण-चिन्ह आज भी उस पर्वत पर कहीं मौजूद हैं ।